Kuch dost bahut yaad aate hai-Hindi poem

motivational poem in hindi

मैं यादों का पिटारा खोलू तो,

main yaadon ka pitara kholoo to

कुछ दोस्त बहुत याद आते है।

Kuch dost bahut yaad aate hai

मैं गांव की गलियों से गुजरू

main gaanv ki galiyon se gujaroo

पेड़ की छांव में बैठू तो,

ped ki chhaanv mein baitho to,

कुछ दोस्त बहुत याद आते है।

Kuch dost bahut yaad aate hai

वो हंसते मुस्कुराते दोस्त

motivational poem in hindi

vo hansti muskurahat dost

ना जाने किस शहर में गुम हो गए,

na jaane kis shahar mein gum ho gae,

कुछ दोस्त बहुत याद आते है।

Kuch dost bahut yaad aate hain

कोई मैं में उलझा है तो कोई तू उलझा है

hindi poem for kids

koee main mein uljha hai to koi too ulajha hai

नहीं सुलझ रही है अब इस जीवन की गुत्थी,

Nahi  sulajh rahee hai ab is jeevan ki gutthee,

अब दोस्त बहुत याद आते है।

Ab dost yaad aate hai

जब मैं मनाता हूं कोई त्यौहार

jab main manaata hoon koi tyohaar

तो हंसते गाते दोस्त नजर आते है,

Hindi poem

to hanste gaate dost nazar aate hai,

लेकिन अब तो होली, दिवाली भी मिलना नहीं होता।

lekin ab toh holi, diwali bhi milana nahin hota.

कोई पैसा कमाने में व्यस्त है

koi paisa kamaane mein vyast hai

तो कोई परिवार चलाने में व्यस्त है

to koee parivaar chalaane mein vyast hai

याद करता हूं पुराने दिन तो

Yaad karta hun puraane din toh

कुछ दोस्त बहुत याद आते है।

Kuch dost bahut yaad aate hai

Share the beauty on shayari and read more बचपन है ऐसा खजाना-hindi poem for kids

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *