बेटियां बेटियां बेटियां-hindi poem for kids

poem in Hindi

लडकें की तरह लड़की भी, मुट्ठी बांध के पैदा होती हैं।

Ladka Ki tarah ladki  bhi,mutthee baandh ke paida hota hain

लडकें की तरह लड़की भी, माँ की गोद में हसती रोती हैं।।

Ladka ki tarah ladki bhi, maa ki god me haste roti Hain 

करते शैतानियाँ दोनों एक जैसी।

Karte shaitaaniyaan do ek jaisee

करते मनमानियां दोनों एक जैसी।।

Karta manmaaniyan doono ek jaisee

poem in Hindi

दादा की छड़ी दादी का चश्मा तोड़ते हैं।

Dada ki chhadee dadi ka chashma todte hain

दुल्हन के जैसे माँ का आँचल ओढ़ते हैं।।

Dulhan ke jaisee maa kaलोरी  aanchal odhate hain

भूक लगे तो रोते हैं, सुन कर सोते हैं।

Bhook lage too rote hain, loree sun kar sote hain

आती हैं दोनों की जवानी, बनती हैं दोनों की कहानी।।

hindi poem for kids

Aati hai dono ki jawani banti hain dono ki kahani 

दोनों कदम मिलकर चलते हैं।

Dono kadam mila kar chalte hain

दोनों दिपक बनकर जलते हैं।।

Dono deepak bnakr jalte hain

लड़के की तरह लड़की भी नाम रोशन करती हैं।

Ladke ki thara ladki bhi naam roshan karti hain

कुछ भी नहीं अंतर फिर क्यूँ जन्म से पहले मारी जाती हैं।।

Kuch bhi nahi anth fir kyu janam se pehle maari jaati hain

बेटियां बेटियां बेटियां ..

betiyaan,betiyaan,betiyaan

बेटियां बेटियां बेटियां ..

betiyaan,betiyaan,betiyaan…

Express your feelings about your girlfriend with Shayari on eyes प्यार से बापू उन्हें बुलाते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *